एम.7 रूटस्टॉक

एम.7 (माल्लिंग 7) सेब का रूटस्टॉक

MMM7777

(In English)

परिचय

एम.7, सीडलिंग पे लगे पेड़ का लग भग 50-60% होता है। इसिलिये यह सेमि-ड्वॉरफिंग रूटस्टॉक की श्रेणी में आता है। यह रूटस्टॉक भी माल्लिंग श्रृंखला के अंतर्गत आता है, जो ईस्ट मालिंग स्टेशन इंग्लैंड में विकसित किया गया था। यह रूटस्टॉक एम 26 से 5-10% बड़ा और म.9 से लगभग दोगुने आकार के पेड़ का निर्माण करता है। यह एक उचित मज़बूती वाला रूटस्टॉक है, फिर भी कुछ सहारे की आवश्यकता हो सकती है। एम.7 पर एक सेब का पेड़ 3-4 साल में फल देना शुरू कर सकता है और परिपक्व होने पर 13-16 फुट की ऊंचाई तक पहुँच सकता है।

प्रमुख बिंदु

सामान्य के मुकाबले पेड़ का आकार (नॉन-स्पर)                   55-65%

सामान्य के मुकाबले पेड़ का आकार(स्पर)                           45-55%

पेड़ की मजबूती                                                             संतोषजनक

जड़ सकर्स                                                                    बहुत ज़्यादा

फ्रूट बेअरिंग                                                                  3-4 साल

अकालपक्‍वता                                                               बहुत जल्दी

पेड़ों के बीच दूरी (नॉन-स्पर)                                            12-15 फीट

पेड़ों के बीच दूरी (स्पर)                                                   7-10 फीट

कॉलर रॉट से प्रतिरोध                                                    माध्यम प्रतिरोध

बर नाट से प्रतिरोध                                                       उच्च प्रतिरोध

वूली-अफिड से प्रतिरोध                                                 कम प्रतिरोध

स्थायी सहारे की आवश्यकता                                        आवश्यकता हो सकती है

विवरण

एम. 7 रूटस्टॉक एम.26 से बड़े और एम.एम. 106 से छोटे पेड़ का उत्पादन करता है। यह अर्ध ड्वॉर्फ पेड़ का निर्माण करता है, जो सीडलिंग पे लगे पेड़ का लग भग 50-60% होता है। एम.7 मानक पेड़ के 50-60% होने के कारण वाणिज्यिक उद्योग में एक लोकप्रिय रूटस्टॉक है और अधिकांश मिट्टी पर अच्छा प्रदर्शन करता है। इसमें सर्दियों को सहने की उत्कृष्ट ताक़त होती है। इन रूटस्टॉक पर लगाए गये सेब के पेड़ को अपने प्रारंभिक वर्षों में सहारे की आवश्यकता पड़ सकती है। हालांकि यह सूखे की स्थिति को सह सकते है , लेकिन अगर सूखे के हालात जारी रहे , तो सिंचाई की आवश्यकता हो सकती। यह वूली एफिड का बहुत कम प्रतिरोधक है, लेकिन इसमें कॉलर रॉट को प्रतिरोध करने की क्षमता कुछ हद तक होती है। एम.7 में सकरिंग की संभावना अधिक रहती है। यह गहरे लगाए जाने चाहिए और कलम स्तह से काफ़ी उँचाई पर की जानी चाहिए ताकि सहारे की आवश्यकता ना पड़े और सकरिंग की संभावना को भी कम किया जा सके ।

हिमाचल प्रदेश के मंडी ज़िले के रोहंडा में एम..7 रूटस्टॉक पर सेब का बगीचा तैयार किया हुआ है। इस बाग को 1972 में स्थापित किया गया था । यहाँ पौधों का प्रदर्शन काफ़ी अच्छा है और पेड़ अभी भी जवान लगते है।

अर्ध ड्वॉर्फ होने के कारण इस रूटस्टॉक पर स्पर और नॉन-स्पर दोनो क़िस्मों का प्रयोग किया जा सकता है।  अगर वूली एप्पल अफिड की शिकायत  है तो इस रूट स्टॉक का चयन नही किया जाना चाहिए क्यूँकी यह वूली एप्पल अफिड के लिए अतिसंवेदनशील है।

banpo

OPEN IN NEW WINDOW | JOIN TALKAPPLE GROUP

 

 

@ Since 2015 | lets Grow Apple

error: Content is protected !!

Log in with your credentials

Forgot your details?